प्रवेश सम्बन्धी सूचना

भारत में प्रवचन में शामिल होने के लिए कुछ व्यावहारिक निर्देश

पंजीकरण
सामान्य तौर पर, भारत में सभी प्रवचन निःशुल्क और जनता के लिए खुले हैं। धर्मशाला में प्रवचनों के लिए, आपको व्यक्तिगत रूप से मैक्लोडगंज में सुरक्षा कार्यालय के तिब्बती शाखा (होटल तिब्बत के पास) में पंजीकरण कराने की आवश्यकता है। कोई अग्रिम पंजीकरण सेवा नहीं है। पंजीकरण, प्रवचन प्रारंभ होने के लगभग तीन दिन पहले प्रारंभ होता है और प्रवचन के पहले दिन समाप्त होता है। पंजीकरण के लिए, आपको अपने पासपोर्ट के साथ २ पासपोर्ट आकार के फोटो लाने की आवश्यकता होगी। प्रत्येक प्रवचन पास के लिए १०/ रुपये का सेवा शुल्क लिया जाएगा। चूँकि कई हजार लोग प्रवचनों में भाग ले सकते हैं, हमारा सुझाव है कि आप प्रवचन प्रारंभ होने के दो या तीन दिन पहले पहुँच जाए यह सुनिश्चित करने के लिए कि आपकी आवास व्यवस्था ठीक हुई है। धर्मशाला में कई होटल और गेस्टहाउस हैं। प्रवचन समय भी प्रवचनों के प्रारंभ होने के एक या दो दिन पूर्व तय किया जाता है और उसके पश्चात सार्वजनिक किया जाता है ।
 

अनुवाद

 
परम पावन मुख्य रूप से तिब्बती में प्रवचन देते हैं। अतः अधिकतर अवसरों पर जब परम पावन भारत में प्रवचन देते हैं तो प्रयास किए जाते हैं कि आधिकारिक अनुमोदित अनुवादकों की उपलब्धि पर चीनी, अंग्रेजी, हिन्दी, जापानी, कोरियाई और वियतनामी में आधिकारिक अनुवाद उपलब्ध कराएँ जाएँ। अनुवाद को सुनने में रुचि रखने वालों को अपने साथ एफएम चैनल रेडियो लाने की आवश्यकता है। कृपया ध्यान दें कि अन्य इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों की अनुमति नहीं होगी।

 

 

 

खोजें